BHILWARA AB TAK
भीलवाड़ा

समाज में बढ़ती खांप पंचायतें परिवारों को कर रही है बर्बाद

Share post

सालवी समाज के पीड़ित परिवार के सदस्यों ने कलक्टर एवं एस.पी. से की न्याय की गुहार अभियुक्तों को गिरफ्तार करो या ईच्छा मृत्यु दो

रायपुर थाना क्षैत्र में बढ़ती खांप पंचायतों से पंच-पटेलों द्वारा समाज के अन्य परिवार एवं गांवों को जबरन जाति से बाहर करना, हुक्का-पानी बंद करना एवं समाज में वापस आने के लिए चार-चार लाख रूपये जुर्माने के तौर पर देकर पुनः खुल करने को लेकर सालवी समाज जगदीश चौखला क्षैत्र में कुछ तथाकथित पंच-पटेलों द्वारा कई गांवों एवं दर्जनों परिवारों को सामाजिक बहिष्कार एवं आर्थिक शोषण का शिकार होना पड़ रहा है। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर थाना रायपुर दिनांक 25.01.2022 को एफ.आई.आर. नंबर 0020 पर दर्ज मुकदमे में मिलीभगत का आरोप लगाते हुए अभियुक्तों को गिरफ्तार करने की मांग की। समाज के प्रतिनिधि मण्डल ने आज पुलिस अधीक्षक एवं जिला कलक्टर से मिलकर आपबीती सुनाते हुए गुहार लगाई कि दो वर्षों से लगातार तथाकथित पंचों द्वारा झूठे मामलों में फंसाकर व्यक्तिगत एवं पारिवारिक रंजिश के चलते परेशान एवं प्रताड़ित किया जा रहा है। यही नहीं पीड़ित परिवार के रिश्तेदारों को भी शादी, मौत मरगत एवं सामाजिक कार्यक्रमों से पूर्णतया मुक्त कर दिया गया है जिसे लेकर पीड़ित परिवारों द्वारा अभियुक्तों के खिलाफ दर्जनों मुकदमें दर्ज होने के बाद भी राजनीतिक शह से अभियुक्त गिरफ्त से बाहर होकर समाज में तनाव एवं भ्रान्ति पैदा कर ईच्छा-मृत्यु तक लाकर रख दिया है। समाज के लक्ष्मणलाल बलाई, गोपीलाल बलाई, मांगीलाल बलाई सहित समाज के प्रतिनिधि मण्डल ने पिछले दिनों दर्ज मुकदमें में समाज से बहिष्कृत करने के मामले में धरा 143, 147, 148, 149, 153क, 120बी, 270, 271, 384, 385, 386, 387, 388, 389, 500, 501, 503, 504, 505, 506 भा0दं0सं0, कोरोना महामारी संक्रमण अधिनियम राजस्थान गुंडा एक्ट एवं आई0टी0 एक्ट के बजाय 384 और 506 में मुकदमा दर्ज किया गया। जिससे अभियुक्तों के हौंसले बुलन्द हैं एवं गंगापुर उपखण्ड क्षैत्र में तथाकथित पंचों के आतंक से समाज के बहुत बड़े समूह को इन लोगों ने षड़यन्त के तहत समाज से बहिष्कृत करने की गतिविधियों से परेशान कर रखा है। पीड़ित परिवार के सदस्यों एवं समाज के प्रतिनिधि मण्डल ने कलक्टर एवं एस.पी. से मिलकर अभियुक्तों की गिरफ्तारी नहीं होने पर कलेक्ट्रेट के बाहर ईच्छा-मृत्यु की गुहार लगाई। इस संबंध में पीड़ित परिवार के सदस्यों ने राज्य के मुख्यमंत्री को भी भेजे ज्ञापन में न्याय दिलाने की गुहार करते हुए निवास के बाहर भी ऐसा ही करने की मांग की।

Related posts

राहत भरा रहा बुधवार : 1193 जांच 73 संक्रमित

सोनोग्राफी केन्द्रो के निरीक्षण के लिए सरकार द्वारा विशेष अभियान शुरू

उद्योग मंत्री सोमवार को रही भीलवाड़ा जिले के दौरे पर

Leave a Comment

Home
Directory
Category