सीएम अशोक गहलोत का पायलट कैंप को मैसेज, मुख्यमंत्री वे ही बनेंगे, जानें पूरा मामला

15 January 2022

सीएम अशोक गहलोत ने पायलट कैंप को मैसेज दिया है कि आगे भी राजस्थान के मुख्यमंत्री वे ही बनेंगे। सीएम गहलोत ने शनिवार को गांधी बधिर काॅलेज जोधपुर के वर्चुअल शुभारंभ कार्यक्रम में कहा कि मेरे संयोग में लिखा है कि जब मैं पहली बार सीएम बना तो जोधपुर के मूक बधिर विद्यालय को वर्ष 2002 में सैकेंडरी स्कूल बनाया गया। 2010 में इसे सीनियर सैकंडरी स्कूल बनाया गया। तीसरी बार राज्य का मुख्यमंत्री बना तो इसे काॅलेज बना दिया गया। मुझे लगता है कि मूक बधिर काॅलेज के निरंतर विकास के लिए मुझे बार-बार मुख्यमंत्री बनने पड़ेगा। अगली बार सीएम बनने पर काॅलेज को विश्वविद्यालय बनाएंगे। काॅलेज के रूप में इस संस्थान को देख रहा हूं। मुझे कितनी खुशी हो रही है। इसे शब्दों में बयां नहीं कर सकता। मैंने ही 1982 में गांधी बधिर संस्थान की नींव रखी थी। संस्थान की समिति का पहला अध्यक्ष मैं ही बना था। संस्थान को 40 साल हो गए है। मूक बधिर संस्थान के 50 साल पूरा होने पर फिर मिलेंगे। 

रीट में विशेष योग्यजनों के लिए पद बढ़ाएंगे

सीएम गहलोत ने कहा कि इतने लंबे समय तक विद्यालय चलाना मामूली कार्य नहीं है। ये बड़ी चुनौती थी। विशेष योग्यजनों को पढ़ाना चुनौतीपूर्ण कार्य है। चैलेंज के साथ प्रबंधन किया गया। मूक बधिर काॅलेज के किशनलाल गर्ग जब भी आते हैं। कुछ लेकर जाते ही हैं। वित्त विभाग के सचिव को पकड़ रखा है। मुख्यमंत्री इनके घर का ही है।  बाकि क्या रह गया है। मूक बधिर काॅलेज के लिए जो भी मांगा जाएगा। वह सब मिलेगा। सीएम ने कहा कि सेवा का भाव संवेदनशीलता से ही होता है। सभी में संवेदनशीलता है। इसलिए सर्दी में भी कार्यक्रम में भाग ले रहे हैं। सीएम ने कहा कि विशेष योग्यजन समाज में अपने अधिकार रखते हैं। जो भी प्रस्ताव मेरे पास आते हैं। उसे पूरा करता हूं। रीट भर्ती परीक्षा में विशेष योग्यजनों के लिए ज्यादा पद रखे जाएंगे। अलग से कोटा तय किया जाएगा।

सीएम बोले- जोधपुर की माटी में सेवाभाव

सीएम गहलोत ने कहा राजस्थान में जोधपुर के दानदाताओं ने मूक बधिर संस्थान के लिए जो काम किया है। उसे शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है। सीएम ने कहा कि जोधपुर की माटी के अंदर सेवाभाव है। पूरे राजस्थान की माटी में ही सेवाभाव है। कोरोना काल में प्रदेशवासियों ने जो मदद की है। वह बेमिशाल है। कोरोना काल में पूरे प्रदेश में किसी को भी भूखा नहीं सोने दिया गया। कोरोना काल में सभी दलों, एनजीओ और धर्म गुरुओं ने मदद की। शानदार तरीके से काम किया गया। कोरोना की दूसरी लहर में भीलवाड़ा माडल की दुनिया में तारीफ हुई। सीएम ने कहा कि लोगों को मास्क और वैक्सीन ही बचाएगी। कोरोना की तीसरी लहर में अस्पताल खाली पड़े है। जिन लोगों ने वैक्सीन नहीं लगवाई। उनकी ज्याद मौत हो रही है। कोरोना काल की दूसरी लहर में सभी विधायकों ने पूरी मदद की ।


  • www.bhilwaraabtak.com

  • 9828146420
  • Bhilwara ,rajasthan